इन 6 तरह के व्यक्तियों से हमेशा दूर रहें

अपने जीवन में हम कई तरह के व्यक्तियों से मिलते हैं  अपने परिवार, मित्रों और सगे सम्बन्धियों के अतिरिक्त भी कई व्यक्ति हमारे जीवन में आते हैं कुछ हमारी ज़िन्दगी में कड़वे अनुभव और बुरी यादें दे जाते हैं और कुछ हमारा जीवन संवार देते हैं और हमारे जीवन का अहम् हिस्सा बन जाते हैं जो व्यक्ति हमें क्षति पंहुचाते हैं उन्हें हम भूल जाना चाहते हैं और यदि वे हमें कहीं मिल जाते हैं तो हम उनसे बच निकलना चाहते हैं

जीवन में सही व्यक्तियों की पहचान करना बहुत जरुरी होता है यदि आप लोगों को नहीं पहचानेंगे तो, जीवन में हमेशा धोखा खाते रहोगे और यदि आप सही व्यक्तयों का साथ नहीं करेंगे तो जीवन में कभी आगे नहीं बढ़ पाएंगे

नीचे दी गई सूची में वर्णित व्यक्तयों से स्वयं को दूर रखें

मूर्खव्यक्ति

मूर्ख व्यक्ति वह होता है जो अपनी निजी जिंदगी को दूसरों के सामने प्रस्तुत कर देता हैl उसे लगता है कि सामने वाला व्यक्ति उसके सुख-दुख को साझा करेगा, किंतु वह यह नहीं समझ पाता है कि आज के जमाने में लोग दूसरों की निजी जिंदगी का मजाक उड़ाते हैंl आधुनिक समाज में कुछ पढ़े लिखे मूर्ख भी उपस्थित हैं, जो गलत व्यक्तियों का समर्थन करते हैं एवं सही का साथ नहीं देते हैंl पढ़े लिखे मूर्ख अफवाहों को बढ़ावा देते हैं, एवं सही बात को छुपा लेते हैंl मूर्ख व्यक्ति तथ्यों पर ध्यान ना देकर बेसिर पैर की बातें करता हैl कई राजनेता, अभिनेता एवं पत्रकार पढ़े-लिखे मूर्खों में शामिल हैl अपने निजी जीवन की नुमाइश ना करें, एवं मूर्खता के प्रभाव में आने से बचें l

नकारात्मक व्यक्ति

यह लोग हर परिस्थिति में नकारात्मकता को सम्मिलित कर लेते हैंl बात चाहे कुछ भी हो इनके उत्तरों में नहीं शब्द अवश्य शामिल होता हैl जैसे तुम्हें यह काम नहीं करना चाहिए था, यह तो मैं सफलता नहीं दिलाएगा आदि l नकारात्मक व्यक्ति आपको कभी भी किसी कार्य के लिए प्रेरित नहीं करते हैं, बल्कि आपके मन को भी संशय से भर देते हैंl इनके संपर्क में रहने पर आप भी धीरे-धीरे आशा विहीन और उदास होने लगते हैंl इनकी नकारात्मक उर्जा आप में प्रवेश करने लगती है और आप कुछ भी करने से पूर्व ही हार मान लेते हैंl

ईर्ष्यालु व्यक्ति

यह वे व्यक्ति होते हैं जो आप से प्रतिद्वंद्विता रखते हैंl आपकी खुशियों से और सफलताओं से मन ही मन घृणा करते हैंl आपके प्रति द्वेष और क्रोध की भावना रखते हैंl इन्हें पहचानना अत्यधिक ही कठिन होता है क्योंकि यह अपने मन का द्वेष अपने होठों की हंसी में छुपा लेते हैं, किंतु कभी-कभी इन की नजरों एवं हाव भाव से इनकी मन स्थिति का पता लगाया जा सकता हैl यथासंभव प्रयास कीजिए कि ईर्ष्यालु व्यक्तियों से दूर रहें, और अपने भविष्य से संबंधित कोई भी नीति इन के सामने प्रस्तुत ना करेंl

बगुला भगत या मीठी छुरी

यह उन व्यक्तियों की श्रेणी है जो आपके मुंह पर तो मीठा मीठा बोलते हैं, किंतु आपके पीठ पीछे आपकी बुराई करते हैंl आपको खुश रखने के लिए अपनी अच्छाइयां प्रदर्शित करते हैं, किंतु मन ही मन आपके बुरे की कामना करते हैंl यह लोग आप की झूठी प्रशंसा करके आपको अनायास ही चने के झाड़ पर चढ़ा देते हैंl यह आपके कभी भी सच्चे मित्र नहीं हो सकतेl यह मतलब निकल जाने के बाद आपको सदा के लिए छोड़ देते हैं, और अपना मतलब निकालने के लिए ही आप की चापलूसी करते हैंl यह धोखेबाज  एवं झूठे होते हैंl मुंह मे राम और बगल में छुरी लिए फिरते हैंl अतः यदि आप अपना भला चाहते हैं तो इस प्रकार के लोगों से दूर रहेंl

अहंकारी व्यक्ति

इन लोगों के लिए अपना अहम सबसे ऊपर होता हैl अपने आगे यह किसी की नहीं सुनते हैंl ना आपकी बातों को महत्व देते हैं और ना ही आप का सम्मान करते हैंl सिर्फ अपनी ही अपनी चलाते हैंl अपनी प्रशंसा करते हैं और अपने ही कार्यो का बखान करते रहते हैंl

शासक प्रवृत्ति वाले

यह व्यक्ति दूसरों पर शासन करना चाहते हैंl स्वयं कुछ नहीं करते और दूसरों के कंधे पर बंदूक रखकर अपना उल्लू सीधा करते हैंl अपनी बातें मनवाना और हमेशा अपनी चलाना इनका स्वभाव होता हैl यह आपके दिमाग व भावनाओं के साथ खिलवाड़ करते हैंl निजी स्वार्थ के लिए आपके मस्तिष्क व आपकी क्षमताओं का  इस्तेमाल करते हैंl परजीवियों की तरह आपका खून चूसते हैं और आप को कंगाल कर देते हैंl अतः स्वयं की उन्नति के लिए दूसरों की गुलामी से बचे, व अपने मस्तिष्क का प्रयोग करते हुए समझदारी से निर्णय लेंl

इंसान का भला बुरा  उसके स्वयं से ज्यादा कोई नहीं समझ सकताl अतः दूसरों की बातें सुने अवश्य किंतु निर्णय अपने विवेक एवं समझदारी से लेंl ना किसी को  इस्तेमाल करें और ना ही किसी के प्रयोग में आने वाली सामग्री बनेl लोभी क्रोधी और झूठे व्यक्तियों से दूर रहेंl जो हमेशा आप में गलतियां निकालें, जो हमेशा आप को गलत ठहराता है, जो अपनी गलतियों का ठीकरा भी आपके सिर पर फोड़ दे, ऐसे व्यक्तियों से भी दूर रहेl जो आपको नीचा दिखाए, वह जो आपको बात बात में आप की कमियों का एहसास कराए, उन व्यक्तियों का साथ भी तुरंत छोड़ देंl

यदि आप अपना और अपने परिवार का भला चाहते हैं तो ऊपर दिए गए सभी व्यक्तियों से बचकर रहेंl यद्यपि समाज में इन सब लोगों से नाता तोड़ कर भी नहीं रहा जा सकता, किंतु अपने विवेक का इस्तेमाल करते हुए व अनायास ही किसी के बहकावे में ना आते हुए आप अपने जीवन को भली प्रकार प्रगति के पथ पर ला सकते हैंl अच्छे लोगों का साथ करें जो आपको उत्साहित करते हैं ,आपकी क्षमताओं को बढ़ावा देते हैं, आपके अच्छे कार्यों की प्रशंसा करते हैं, आपके दुख में आपके साथ खड़े होते हैं, उन लोगों का साथ कदापि न छोड़ें l किसी पर भी विश्वास करने से पूर्व उसे भलीभांति परख लें, इस प्रकार आप स्वयं तथा अपने परिजनों को हर प्रकार के संकट से बचा सकते हैंl

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *